अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण जारी है जानिए कई खासियत बन रहा है

श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट के न्यासी अनिल मिश्रा ने कहा, ‘हमने यह जमीन खरीदी है क्योंकि राम मंदिर के निर्माण के लिए हमें और जगह चाहिए थी।’ ट्रस्ट की खरीदी गई यह जमीन अशरफी भवन के पास स्थित है। राम मंदिर परिसर के पास स्थित मंदिरों, मकानों और खाली मैदानों के मालिकों से इस संबंध में बातचीत की जा रही है।

ट्रस्ट ने यह जमीन स्थानीय निवासी दीप नारायण से खरीदी है और इसके लिए ट्रस्ट ने 1 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. दीप नारायण ने राम मंदिर ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में अपनी 7,285 वर्ग फीट जमीन की रजिस्ट्री पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं.

बताया जा रहा है कि ट्रस्ट विस्तारित भव्य मंदिर परिसर का निर्माण 107 एकड़ में करना चाहता है और इसके लिए उसे अभी 14,30,195 वर्ग फुट जमीन और खरीदनी होगी। 

ये मंदिर 70 एकड़ में नहीं बल्कि अब 107 एकड़ में बनाया जाएगाआपको बता दें कि राम मंदिर के प्रकल्पा में मुख्य मंदिर का निर्माण पांच एकड़ जमीन पर ही किया जाएगा और बाकी जमीन पर संग्रहालय और पुस्तकालय जैसे केन्द्र बनाने का इरादा है