अभिनेता धर्मेंद्र शादीशुदा होते हुए भी ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी को कैसे शादी करने के लिए मना लिया, जानिए

अभिनेता धर्मेंद्र देओल फिल्म में काम करने के लिए अपने गांव पंजाब से मुंबई जाने का प्लान बनाया, धर्मेंद्र अपने पहली पत्नी के साथ मुंबई में आ गए मुंबई में काम करने के लिए, धर्मेंद्र अपनी फिल्मों में काम करने के लिए स्ट्रगल चालू कर दिया

जिसे छोटे-मोटे काम मिलने लगा धर्मेंद्र पंजाब के छोटे गांवों से थे उनके माता-पिता इतने अमीर नहीं थे जो उनकी खर्चा मुंबई में चला सके लेकिन धर्मेंद्र अपने कमा कर अपना खुद का खर्चा निकालते थे,

धर्मेंद्र को हेमा मालिनी के साथ फिल्मों में काम के दौरान 1970 में एक दूसरे प्यार कर बैठे उसमें धर्मेंद्र की पहली बीवी प्रकाश कौर से शादी हो चुकी थी जिनके दो बेटे थे सनी देओल और बॉबी देओल, लेकिन धर्मेंद्र हेमा मालिनी से प्यार में पढ़ने से

अपने आप को पहले बीवी से रोक नहीं पाया और हेमा मालिनी से प्यार हो गया, 1970 के दौरान हेमा मालिनी में कई अभिनेता के साथ अभय और विवाह का प्रस्ताव ठुकरा दिया शुरू में ही हेमा ने धर्मेंद्र को पसंद करने लगा जो उनसे ही शादी करने की विचार किया

संजीव कुमार और जितेंद्र जैसे अभिनेता कई बार और भी अभिनेता हेमा मालिनी को शादी करने का प्रस्ताव दिया था, हेमा मालिनी नहीं बदला नहीं सोचा कि धर्मेंद्र का पहले से और शादीशुदा है दोनों प्यार सलामत रखा, हेमा मालिनी अपने प्यार को पाने के लिए अपने आप को नहीं बदला

और दोनों 1980 में धर्मेंद्र और हेमा मालिनी शादी कर लिए और शादी के बंधन में बंध गए, क्योंकि उस समय एक विवाहित पुरुष के साथ संबंध बनाने के लिए इच्छा जाहिर नहीं था लेकिन फिर भी प्यार को अपना प्रकार रखी,

और दोनों शादी के बंधन में बंध गए धर्मेंद्र और हेमा मालिनी शादी से पहले दोनों धर्म परिवर्तन के लिए फैसला किया क्योंकि धर्मेंद्र की पहली पत्नी प्रकाश कौर तलाक लेना बिल्कुल पसंद नहीं था हिमा के पिता किसी भी अन्य पिता की तरह उनकी शादी का कड़ाई से विरोध करते थे

और वह नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी पहले से शादीशुदा आदमी से शादी करें, मालिनी की पिताजी के निधन के बाद धर्मेंद्र और हेमा मालिनी शादी कर ली लेकिन फिर भी उनकी मां को चोट पहुंचाई मीडिया रिपोर्ट के अनुसार

हेमा और धर्मेंद्र एक दूसरों को प्यार करते थे दोनों अपने माता-पिता के विरुद्ध भी दूसरे धर्म में प्रवृत्ति हो गए, हेमा मालिनी अपने घर गोरी गांव की छोड़कर धर्मेंद्र के घर जुहू में धर्मेंद्र के साथ रहने लगी, 1980 के बाद धर्मेंद्र को फिल्म बनाने में ज्यादा ध्यान आकर्षित किया

और खुद सी फिल्म बनाने लगे धर्मेंद्र खुद का पैसा लगाकर फिल्मों में प्रोड्यूस करने लगे और कई ऐसे फिल्म बनाया जो सुपर डुपर हिट रही यमला पगला दीवाना की शुरुआत धर्मेंद्र नहीं किया था और खुद की पैसे से लगाकर ही फिल्म को बनाई गई थी,

धर्मेंद्र और हेमा मालिनी प्यार को बरकरार रखा और आज तक दोनों खुशी की जिंदगी में जी रहे हैं, हेमा मालिनी मुंबई से 50 दूर किलोमीटर लोनावाला में बहुत बड़ा फार्म हाउस छुट्टी मनाने के लिए अक्सर धर्मेंद्र की पूरा परिवार लोनावाला के फार्म हाउस में ही मनाते हैं,

धर्मेंद्र लोनवाला ही ज्यादा रहना पसंद करते हैं क्योंकि पहाड़ी और खेती में काम करके अपना समय को व्यक्त करते हैं और मस्त रहते हैं और दूसरे को भी हंसाते खिलाते रहते हैं, धर्मेंद्र अपने सभी काम करने वाले के साथ मिलजुल कर हंसाते खिलाते रहते हैं

और उनको प्यार देते रहते हैं और सोशल मीडिया के माध्यम से उन सभी के साथ वीडियो और फोटो बनाकर शेयर करते रहते हैं, धर्मेंद्र को बहुत ही ज्यादा पसंद है खेती करना इसलिए हरियाणा में खेत खरीद के रखे हैं और पंजाब में इनका खानदानी जमीन है

जो वहां पर खेती करते हैं लेकिन ज्यादा मुंबई के लोनावाला में रहते हैं धर्मेंद्र और वहां पर खेती करते हैं, पौधे और सब्जियां से बहुत लगाव है और हर एक दिन या पेड़ पौधे लगाते रहते अपने खेत में और फल सब्जी वीडियो शेयर कर के दिखाते रहते हैं