कोविड-19 संक्रमण रोकने को लिए CM Uddhav Thackeray ने लागू किए नए प्रतिबंध

पूरे राज्यों में कोरोना बढ़ता ही जा रहा है राज्य सरकार द्वारा लोगों से बार-बार आह्वान किया जा रहा है कि वह घर पर ही रहना ज्यादा भीड़ ना करें और कोरोना के सभी नियमों का पालन करें क्योंकि राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर आना शुरू हो चुकी है हालांकि कई जिलों में कोरोना के कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं

लेकिन तभी भी कोरोना मरीजों की संख्या कम होने का नाम ही नहीं ले रही कोरोना पीड़ितों की बढ़ती संख्या अब और ज्यादा चिंता का  विषय बन चुकी है  इसे देखते हुए राज्य सरकार द्वारा Mission Begin Again के तहत कुछ नए प्रतिबंध लगाया गया है नए नियम के अनुसार राज्य में 27 मार्च से आधी रात से 15 अप्रैल तक कर्फ्यू लगाया गया है

Instagram/cmomaharashtra_

जानिए क्या है नए प्रतिबंध

1 पांच से ज्यादा से ज्यादा अधिक लोग को रात से 8 बजे से सुबह 7 बजे तक एक जगह इकट्ठा होने की अनुमति नहीं होगी 

2 रात के कर्फ्यू के कारण पाक और समुंदर किनारा सहित सभी सार्वजनिक स्थान रात 8 बजे से सुबह 7  बजे तक बंद रहेंगे इन स्थानों पर प्रवेश प्रतिबंध रहेगा  

3 सभी मॉल सिनेमा हॉल रेस्टोरेंट रात 8 बजे से सुबह 7  बजे तक बंद रहेंगे हालांकि होम डिलीवरी के लिए कोई प्रतिबंध नहीं है

4 किसी भी प्रकार का कोई सार्वजनिक सांस्कृतिक या धार्मिक आयोजन नहीं होना चाहिए यदि ऐसी कोई घटना हुई तो कोरोना अंत तक उस स्थल को बंद किया जाएगा 

5 शादी के लिए 50 से अधिक मेहमान नहीं होने चाहिए अगर ज्यादा हुए तो कानूनी कार्यवाही होगी और अंतिम संस्कार में केवल 20 लोगों को शामिल होने की परमिशन दी गई है स्थानीय अधिकारियों को इसका ध्यान रखना चाहिए

6  सभी निजी कार्यालयों में केवल 50 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति होनी चाहिए इस स्थान पर थर्मल स्क्रीनिंग, स्वच्छता और सामाजिक दूरी के नियमों का कड़ाई से पालन किए जाने की उम्मीद है

7 घरेलू अलगाव के मामले में, स्थानीय प्रशासन को सूचित करना अनिवार्य है 14 दिनों के लिए अलग रखा जाना चाहिए 

8 स्थानीय प्रशासन द्वारा घोषित नियमन क्षेत्र में सभी नियम अगले आदेशों तक लागू रहेंगे जगह की स्थिति की समीक्षा करने के बाद, कलेक्टर और नगर पालिका प्रशासन यह तय कर सकते हैं कि क्या आवश्यक सेवाओं के अलावा किसी और चीज के लिए अनुमति दी जाए या नहीं, नागरिकों को घूमने की अनुमति दी जाए

सभी नियम 15 अप्रैल तक लागू होंगे और नागरिकों द्वारा इन नियमों का पालन करना अनिवार्य है नहीं तो प्रशासन द्वारा नियम तोड़ने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई है