संयुक्त किसान मोर्चा प्रेस नोट पढ़िए

59 दिन किसान आंदोलन चल रहा है जो  दसवीं बार सरकार के साथ किसान के नेता के साथ केंद्र सरकार से मीटिंग हो चुका है कानून को वापस लेने के लिए जिस पर सरकार कानून को वापस लेने में विचार नहीं कर रही है सरकार का कहना है कि हम बदलाव कर सकते हैं कानून वापस नहीं कर सकते हैं

जिसे किसान ने अपने बातों पर अड़े हुए हैं कि कानून को हर हाल में वापस लेना ही होगा जो 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन किसान आंदोलन और  परेड करने के लिए  जोरों शोर में तैयारी में लगे हुए हैं

जिसके कारण केंद्र सरकार के पुलिस ने कई  नियम बना रहे हैं ताकि किसान गणतंत्र दिवस पर कोई हानिकारक ना पहुंचाएं

 18 महीने से किसान ने अपने बातों पर पड़े हुए हैं कि कानून को रोक लगा और वापस ले लो