प्रधानमंत्री पूंजीपतियों के हित के लिए जिद्द पर अड़ी है-kisan Ekta Morcha

नए कृषि कानून के विरोध में किसान आंदोलन चालू है किसान आंदोलन को 100 दिन से ज्यादा दिन हो गए हैं फिर भी केंद्र सरकार को इस बात की गंभीरता नहीं है। केंद्र सरकार किसानों के बातों पर मुद्दों पर ध्यान नहीं दे रही है इस आंदोलन में कई किसानों ने आत्महत्या भी कर ली है फिर भी सरकार किसानों के मामलों में नजर अंदाज आ कर रही है।

कृषि कानून के विरोध में किसानों ने आंदोलन किया विभिन्न विभिन्न देशों में जाकर रैली निकाली नारे लगाए इतना प्रयास करने की बाद भी सरकार ने उनकी मांगें पूरी नहीं की इसलिए किसान सरकार पर जुलूस निकालते हुए कहता है कि प्रधानमंत्री पूंजीपतियों के हित के लिए जिद्द पर अड़े है और सरकार चंदे का नही वोट का क़र्ज़ उतारे।